Monday, December 28, 2015

Jasoosi Duniya Hindi 228 - Khoon Ka Ujala (Ibne Safi)

जासूसी दुनिया 228 - खून का उजाला (इब्ने सफी) 
दोस्तों, 
एक बार फिर पेश है जासूसी दुनिया और इब्ने सफी के चाहने वाले पाठकों के लिए जासूसी दुनिया (हिंदी/ इलाहाबाद) का यह अंक - खून का उजाला 

इस शीतकालीन अवकाश में इस ब्लॉग में कुछ नया पोस्ट करने का विचार अंततः तीन पुस्तकों के अपलोड के साथ साकार हो पाया, इस बात की बेहद ख़ुशी है और एक सुखद संतोष भी.

आशा करता हूँ कि ये अपलोड आप लोगों को अवश्य पसंद आएगा, वैसे भी मेरे आज तक के सारे अपलोड में जासूसी दुनिया निःसंदेह सबसे ज्यादा देखी जाने वाली पोस्ट है. 

8 comments:

Anonymous said...

यह ब्लॉग हिंदी कॉमिक्स अपलोड करने के लिए बनाया गया था किन्तु इस ब्लॉग पर अब मिसिंग हिंदी कॉमिक्स (जैसे कि, DC के छोटू-लम्बू, मोटू-पतलू, दाबू/ज़ाब, लम्बू-मोटू, महाबली शाका इत्यादि) अपलोड होने बंद हो गए हैं और उपन्यास, पत्रिकायें, बाल पॉकेट बुक्स अपलोड होनी आरम्भ हो गयी हैं. यह कार्य वैसे तो सराहनीय है कि आप इस में इतना समय, धन और परिश्रम करते हो किन्तु हमारा हिंदी कॉमिक्स प्राप्त करने का उद्देश्य तो वही का वही रह गया!

Anupam Agrawal said...

सबसे पहले तो अगर आप अपना नाम जाहिर करते तो उत्तर देने का महत्त्व अलग ही होता. खैर, आपकी शिकायत एक हद तक जायज है कि मैं कॉमिक्स अपलोड काफी दिनों से नहीं कर रहा हूँ. पर बात बस इतनी सी है कि आजकल मैं अपने ब्लॉग को ठीक से समय दे ही नहीं पा रहा हूँ. बीच बीच में जब भी समय निकाल पाता हूँ, दोस्तों की मांग के हिसाब से अपलोड करता हूँ. इन दिनों बाल पॉकेट और जासूसी दुनिया के लिए भाइयों ने कहा था तो वही अपलोड कर दी.

अब आपने कॉमिक्स कहा है तो अगली दफा कॉमिक्स पोस्ट कर दी जायेगी. आशा है शिकवे-शिकायतें सुलझ गयी होंगी.

Anonymous said...

नाम से उत्तर देने का महत्व अलग कैसे होता? लो जी मैं कहता हूँ की मेरा नाम अमिताभ बच्चन है. अब बताओ क्या अलग बात हो जायेगी?

मैं तो पहले ही कह रहा हूँ की आप अपने प्रशंसकों की मान पूरा करने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं किन्तु उन लोगों की मांग इस साइट पर पूरी करना जायज नहीं है क्यूंकि यह साइट हिंदी कॉमिक्स के लिए बनाई गयी थी.

वैसे अब आपने कहा है तो हमें मिसिंग हिंदी कॉमिक्स के अपलोड होने की प्रतीक्षा रहेगी. धन्यवाद!

Shivkumar Vaishnaw said...

Thanks A lot, Anupam Bhai


&

Happy New Year to you & All the family members.

Arvind said...

Hello Anupam sir, thank you so much for sharing one more jewels of ibne safi with us and wish u a very happy new year to you and your family ....God bless you

Manohar Marandi said...

Great!Anupam bhai.Keep it up.

Anonymous said...

Great work Anupam sir

Gaurav Gandher said...

Thanks Anupam Bhai