Saturday, June 19, 2010

Neeti Katha - Ahankari Ka Ant (Anupam Sinha)

नीति कथा - अहंकारी का अंत (अनुपम सिन्हा)

तो आप सभी अनुपम सिन्हा जी के चाहने वालों का यह मानना है कि आप उनके कार्यों को पहचान सकते हैं. 
पर मैं  ऐसा नहीं मानता, अब तो बिलकुल नहीं. एक समय मुझे भी लगता था कि अनुपम सिन्हा जी के कॉमिक्स अत्यंत रोचक एक्शन, साइंस फिक्सन से भरपूर होते हैं. वैसे सच भी है, इस  विधा में उनका कोई मुकाबला भी तो नहीं है. 
पर तभी हाथ लगी यह, एक  पेज कि लघु-कथा (नन्हें सम्राट में), सच कह रहा हूँ - मेरा दावा हैं अगर आपको ना बताया जाए तो आप मानेंगे ही नहीं कि यह उनका सृजन है. भला वो कहाँ ऐसी कहानी लिखते हैं, और चित्र बनाते हैं. पर सच तो सच है. अब आप खुद ही देख लें. 

अंत में - नन्हें सम्राट पत्रिका के प्रकाशकों को मेरा सादर नमन और धन्यवाद. क्योंकि अनुपम जी को मौका तो बहुत लोगों ने दिया, परन्तु उनके कार्यों की विविधता तो नन्हे सम्राट में ही  दृष्टिगोचर होती है. है ना ?


कैसा लगा रहा है आपको मेरा प्रयास. अवश्य बताइयेगा.
आपका अपना 
अनुपम अग्रवाल

1 comment:

Toonfactory said...

Anupam Bhai...aapki is prastuti ko khud Anupam Sinha ji ne share kiya aapke naam ke saath apne facebook page par...waqayi mein kaabil-e-taarif...

Mere paas ek-do chocolate ke issues hain aur Mahamaya Ki Talwar bhi hain angrezi mein...